प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अफगानिस्तान के सर्वोच्च नागरिक सम्मान से नवाजा

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को अफगानिस्तान के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘अमीर अमानुल्लाह खान पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया। AmirAmanullah_jpg_2881453fकल हेरात में ऐतिहासिक अफगान-भारत मैत्री बांध के उद्घाटन के बाद राष्ट्रपति अशरफ गनी द्वारा उन्हें इस सम्मान से नवाजा गया।प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर अपनी भावनाओं को साझा करते हुए कहा, “अमीर अमानुल्लाह खान पुरस्कार से सम्मानित करने के लिए मैं अफगानिस्तान की सरकार के प्रति अपनी गहरी कृतज्ञता व्यक्त करता हूं।”अफगानिस्तान के नागरिकों के साथ-साथ विदेशी नागरिकों को उनकी सेवाओं की प्रशंसा में अफगान सरकार द्वारा दिया जाने वाला यह सर्वोच्च नागरिक सम्मान है। पदक के पीछे यह उल्लेख है – “निशान-ए दौलती गाजी अमीर अमानुल्लाह खान” अर्थात “राज्य आदेश गाजी अमीर अमानुल्लाह खान।”

पृष्ठभूमि 

अमीर अमानुल्लाह खान पदक अफगानिस्तान का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है। इस पुरस्कार का नाम अफगानिस्तान के राष्ट्रीय नायक, अमानुल्लाह खान (गाजी) के नाम पर रखा गया है जो अफगानिस्तान की स्वतंत्रता के शूरवीर थे। वे 1919 से 1929 तक अफगानिस्तान अमीरात के शासक थे। उन्होंने अफगानिस्तान की स्वतंत्रता के लिए एक कुशल नेतृत्व दिया।

राष्ट्रीय नायक, किंग अमानुल्लाह, ने अफगानिस्तान के आधुनिकतावादी संविधान की अगुवाई की और उसमें समान अधिकारों और व्यक्तिगत स्वतंत्रताओं को शामिल किया। उन्होंने देश का आधुनिकीकरण किया और लड़कों और लड़कियों, दोनों के लिए ही महानगरीय स्कूल खोले तथा यूरोप और एशिया के साथ अफगानिस्तान के व्यापार को बढ़ाया। किंग अमानुल्लाह का स्वतंत्र और आधुनिक अफगानिस्तान का विजन आज भी उतना ही प्रासंगिक है जितना पहले था।

किंग अमानुल्लाह के भारत के साथ मजबूत संबंध थे और वे 1929 में थोड़े समय के लिए यहाँ आए थे। इस देश के लिए उनके स्नेही संबंध दोनों देशों के मध्य मजबूत भागीदारी से लगातार परिलक्षित हो रहे हैं। 4 जून को हेरात में अफगान-भारत मैत्री बांध के उद्घाटन के बाद प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को यह आमिर अमानुल्लाह खान पुरस्कार प्रदान किया गया। यह पुरस्कार प्राप्त करने वाले वे पहले भारतीय और विश्व के मुट्ठीभर विदेशी नेताओं में से एक हैं। यह उनकी विशिष्ट रिश्ते की ताकत का प्रतीक होने के साथ-साथ भारत-अफगान संबंधों को आगे बढ़ाने में प्रधानमंत्री की व्यक्तिगत प्रतिबद्धता का भी साक्षी है।अफगानिस्तान सरकार ने इस पुरस्कार का वर्ष 2006 में गठन किया था। इस पुरस्कार को प्राप्त करने वाली पूर्व हस्तियों के नाम इस प्रकार हैं – अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज बुश, कज़ाकस्तान के राष्ट्रपति नूरसुल्तान नजरबायेव, तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तईप एरडोगन, नाटो के जनरल जेम्स जोन्स, पूर्व अफगान राष्ट्रपति और आध्यात्मिक नेता सिबगातुल्लाह मुजादिदी और अफगानिस्तान के मुख्य न्यायाधीश (सीजे) अब्दुल सलाम अजिमी।

स्त्रोत:pib.nic.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Name *