डिजिटल इण्डिया की दिशा में तेजी से बढ़ती मोदी सरकार, स्टेशनों पर फ्री वाई-फाई की सुविधा

अंकित गोस्वामी

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा डिजिटल इण्डिया कार्यक्रम की शुरुआत के बाद से ही देश के विविध क्षेत्रों को इंटरनेट से जोड़ने की कवायद तेज हो गई है। देश के छोटे-बड़े रेल स्टेशनों को वाई-फाई की सुविधा से जोड़ा जा रहा है, ताकि लोगों तक इंटरनेट की पहुँच को बढ़ाया जा सके। इसी क्रम में अब जल्दी ही मुरादाबाद स्टेशन पर लोग वाईफाई की सुविधा का मुफ्त  लाभ ले सकेंगे। इसे इस रूप में भी देख सकते हैं कि मोदी सरकार ने भारतीय रेल के कायाकल्प के जो वादे किये थे, वो भी अब धीरे-धीरे पूरे होते दिखाई पड़ रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी और गूगल के बीच हुए करार के मुताबिक़ गूगल देशभर के रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों को फ्री में वाई-फाई सेवा मुहैया कराएगा। इस योजना के पहले चरण में देशभर के चार सौ स्टेशन चयनित किये गए हैं। इनमें मुरादाबाद रेल मंडल के चार स्टेशन चुने गए हैं। अगले दो से ढाई महीने के भीतर ये सेवा शुरू हो जायेगी। फिलहाल अभी  देहरादून स्टेशन पर बीटीएस लगाए जा रहे हैं। इसके बाद मुरादाबाद में भी काम शुरू हो जाएगा।

पहले चरण में मंडल के चार स्टेशन पर यह सुविधा मिलने जा रही है। इनमें मंडल मुख्यालय मुरादाबाद के साथ ही बरेली, हरिद्वार और देहरादून शामिल हैं। वहीं देहरादून में इसपर काम भी शुरू हो गया है। इससे यात्री बेहद उत्साहित हैं। अब उन्हें जल्द ही मुफ्त में इन्टरनेट की सुविधा मिल सकेगी।

39995008
साभार: mapio.net

दरअसल प्रधानमंत्री मोदी और गूगल के बीच हुए करार से देशभर के रेलवे स्टेशनों पर गूगल यात्रियों को फ्री में वाई-फाई सेवा मुहैया कराएगा। इस योजना के पहले चरण में देशभर के चार सौ स्टेशन चयनित किये गए हैं। इनमें मुरादाबाद रेल मंडल के चार स्टेशन चुने गए हैं। अगले दो से ढाई महीने के भीतर ये सेवा शुरू हो जायेगी। फिलहाल अभी  देहरादून स्टेशन पर बीटीएस लगाए जा रहे हैं। इसके बाद मुरादाबाद में भी काम शुरू हो जाएगा। रेल अधिकारियों के मुताबिक प्लेटफार्म पर यात्रियों को निशुल्क वाई फाई सेवा आधा घंटे तक मिलेगी। उसके बाद कंपनी न्यूनतम शुल्क चार्ज करेगी। वैसे, उम्मीद है कि  भविष्य में ये सेवा आधे घंटे से ज्यादा तक भी की जा सकती है। इस सुविधा से यात्रियों को काफी राहत मिलेगी। ट्रेन का इंतज़ार या फिर स्टेशन पर ट्रेन रुकने के दौरान उन्हें फ्री इन्टरनेट सेवा का लाभ मिल सकेगा। एडीआरएम संजीव मिश्र के मुताबिक इस सुविधा सेनिश्चित रूप से रेल यात्री काफी खुश होंगे और उन्हें कई सूचनाएं स्टेशन पर फ्री में मिल सकेंगी। इसके आलावा यात्रा के दौरान नेटवर्क सुधारने के लिए भी टेलीकॉम कम्पनियों को दिशा-निर्देश दिए गए हैं। इन बातों को देखते हुए कहा जा सकता है कि रेलवे के कायाकल्प के साथ-साथ डिजिटल इण्डिया की तरफ मोदी सरकार अपने कदम तेजी से बढ़ा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Name *