अपराध

मध्य प्रदेश: अबतक के कार्यकाल में हर मोर्चे पर नाकाम दिख रही कमलनाथ सरकार

मध्‍यप्रदेश में सत्‍ता परिवर्तन हुए दो माह से अधिक समय बीत चुका है। तीन बार सत्‍ता में रही भाजपा को बेदखल करके जब कांग्रेस सत्‍ता पर काबिज हुई तो इसका अर्थ यह निकाला गया था कि जरूर मतदाताओं ने बहुत उम्‍मीदों के साथ कांग्रेस को चुना है और भाजपा द्वारा बहुत सारे काम किए जाने के बावजूद ऐसे कौन से अधूरे काम रह गए थे जिसके लिए जनता ने कांग्रेस का चयन किया।