आयुष्मान योजना

स्वास्थ्य क्षेत्र की तस्वीर बदलने में जुटी मोदी सरकार

आजादी के बाद से सरकारें बिजली, पानी, सड़क, अस्‍पताल के ख्‍वाब दिखाती रहीं लेकिन वे ख्‍वाब हकीकत में नहीं बदले। हां, इन ख्‍वाबों को दिखाने वाले नेताओं की गरीबी जरूर दूर हो गईं। इसका नतीजा यह हुआ कि बहुसंख्‍यक जनसंख्‍या मूलभूत सुविधाओं के लिए तरसती रह गई। जब-जब ख्‍वाब दिखाने का नारा कमजोर दिखा तब-तब चालाक नेताओं ने जाति-धर्म-क्षेत्र–