नया साल

ये तथ्य संकेत देते हैं कि नए साल में मजबूत रहेगी अर्थव्यवस्था

चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के दौरान नई परियोजनाओं में 1 लाख करोड़ रुपये से अधिक का इजाफा हुआ है। पिछले साल की तीसरी तिमाही के मुकाबले यह रकम ज्यादा है। पिछले साल इस दौरान परियोजनाओं में 3.1 लाख करोड़ रुपये से अधिक का निवेश किया गया था। परियोजनाओं की गतिविधियों पर नजर रखने वाली संस्था सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकनॉमी

मोदी सरकार के लिए कैसा रहेगा 2018 ?

वर्ष 2018 का देश में चहुँ ओर स्वागत हो रहा है। बीते साल ने सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों को ही एक पूरे साल चौकस और चौकन्ना खड़ा रखा, लेकिन देश की जनता के सामने उम्मीद और संभावनाओं के द्वार भी खोल दिए। वर्ष का अंत गुजरात चुनाव के नतीजों के साथ हुआ, जिसमें आखिरी बाजी तो पीएम नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की करिश्माई जोड़ी ने फिर मार ली। एक बार तो ऐसा लगा कि जातिवाद