कामकाज

बुनियादी ढांचे के एकीकृत विकास से अर्थव्यवस्था को गति देने में जुटी मोदी सरकार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुनियादी ढांचे को मजबूत करके आर्थिक गतिविधियों में तेजी लाने और रोजगार पैदा करने की रणनीति पर काम कर रहे हैं।

आत्मनिर्भर भारत : लोकल को ग्लोबल बनाने हेतु प्रयासरत मोदी सरकार

हमारे देश का बहुत बड़ा बाज़ार ही हमारे लिए सबसे बड़ी पूँजी है। केंद्र सरकार बड़ी तेज़ी से देश में कई क्षेत्रों में आर्थिक सुधारों को लागू कर रही है ताकि देश के व्यवसाय को स्थानीय से वैश्विक स्तर तक पहुँचाया जा सके।

भारतनेट योजना: ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से गाँवों के जुड़ने से ग्रामीण विकास को मिलेगी गति

15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने 6 लाख गांवों को 1,000 दिनों के अंदर ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से जोड़ने की बात कही।

मोदी सरकार के प्रयासों से देश की अर्थव्यवस्था में महती भूमिका निभाने को तैयार हो रहा कृषि क्षेत्र

वर्तमान ख़रीफ़ 2020 के मौसम में देश में 1095 लाख हैक्टेयर क्षेत्र में बुआई का कार्य सम्पन्न किया जा चुका है जबकि पिछले वर्ष इसी अवधि में 1030 लाख हैक्टेयर क्षेत्र में बुआई का कार्य सम्पन्न हुआ था।

कुशीनगर एयरपोर्ट : दो माह में साकार होगा दो दशक पुराना सपना

कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिष्ठित नगरी है। यह भारत सहित करीब दो दर्जन देश के करोड़ों लोगों की आस्था का केंद्र है। केंद्र व उत्तर प्रदेश की वर्तमान सरकारें तीर्थाटन व पर्यटन पर विशेष ध्यान दे रही हैं।

मिशन कर्मयोगी : प्रशासनिक सुधारों की दिशा में मोदी सरकार की क्रांतिकारी पहल

सिविल सेवा में भर्ती के बाद की प्रक्रिया में किए गए सुधारों की दिशा में यह एक महत्त्वपूर्ण प्रयास है, इससे निश्चित रूप से सिविल सेवा में रत कार्मिकों की व्यक्तिगत दक्षता बढ़ने के साथ-साथ संस्थागत विकास भी सुनिश्चित हो सकेगा।

इनोवेशन के क्षेत्र में लगातार प्रगति कर रहा भारत, वैश्विक रैंकिंग में फिर आई उछाल

जीआईआई रैंकिंग में 4 पायदान का सुधार करके भारत मध्य और दक्षिण एशिया में नवोन्मेष के मामले में पहले स्थान पर काबिज हो गया है।

कृषि क्षेत्र के लिए दीनदयाल उपाध्याय के सपनों को साकार करने की दिशा में अग्रसर मोदी सरकार

पंडित दीनदयाल उपाध्याय की दृष्टि में जो सरकार के आधारभूत लक्ष्य होने चाहिए तथा जिनसे हर भारतीय स्वावलम्बी बनेगा, वही आज की मोदी सरकार की प्राथमिकता है।

कृषि क्षेत्र में आत्मनिर्भरता लाने की कवायद

आत्मनिर्भर भारत का एक लक्ष्य किसानों को उत्पादक के साथ उद्यमी बनाने का भी है। किसानऔर कृषि, उद्योग के रूप में आगे बढ़ेंगे तो रोजगार-स्वरोजगार के अवसर पैदा होंगे।

कोरोना की आपदा को अवसर बनाने में कामयाब रही मोदी सरकार

इसके साथ-साथ उद्यमियों से सीधा संवाद स्‍थापित कर उनकी कठिनाईयां दूर की गईं।