कामकाज

स्वामित्व योजना : ग्रामीण आत्मनिर्भरता की दिशा में बड़ी पहल

सामाजिक आर्थिक रूप से सशक्त और आत्‍मनिर्भर ग्रामीण भारत को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री ने 24 अप्रैल 2020 को स्‍वामित्‍व योजना शुरुआत की थी।

ये तथ्य बताते हैं कि आर्थिक सुधारों के कारण मजबूती की ओर बढ़ रहे भारतीय बैंक

कोरोना महामारी के बावजूद भी देश में सरकारी बैंकों के प्रदर्शन में सुधार आया है, जो बैंकिंग क्षेत्र की मजबूती की ओर इशारा करता है।

योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश की एक नई और चमकदार तस्वीर प्रस्तुत की है

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने अपने साढ़े चार साल के कार्यकाल में विकास के नए आयाम गढ़े हैं और एक नए उत्तर प्रदेश की तस्वीर देश के सामने प्रस्तुत की है।

बैड बैंक से फँसे कर्ज की वसूली की राह होगी आसान

एक अनुमान के अनुसार बैड बैंक 5 लाख करोड़ से अधिक के फंसे कर्ज के समाधान में कारगर हो सकती है। साथ ही, इसके दूसरे भी फ़ायदे हैं।

आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन : मोदी सरकार बनाने जा रही रोगियों की अनूठी स्वास्थ्य कुंडली

स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के प्रत्येक नागरिक की अनूठी स्वास्थ्य कुंडली (यूनिक हेल्थ आईडी) बनाने की शुरूआत कर दी है।

सुधार की राह पर आगे बढ़ती अर्थव्यवस्था

अर्थव्यवस्था में सुधार आने की वजह से लाखों की संख्या में नये खुदरा निवेशक हाल ही में शेयर बाजार से जुड़े हैं। बीएसई  शेयर सूचकांक 60,000 अंकों के स्तर को पार कर चुका है

देश में उच्‍च शिक्षा को बढ़ावा देने में कामयाब हो रही मोदी सरकार

सरकार देश में उच्‍च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए नौ शहरों में उच्‍च शिक्षा के केंद्र बना रही है ताकि यहां विदेशी छात्र भारतीय संस्‍थानों की ओर आकर्षित हों।

आर्थिक सुधारों को आकार देने वाले रहे हैं मोदी सरकार के सात साल

प्रधानमंत्री मोदी के सुधारात्मक प्रयासों और समय पर आमजन व कारोबारियों को राहत देने की वजह से सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के ताजे आंकड़े राहत देने वाले हैं।

भारत से उत्पादों के निर्यात ने पकड़ी तेज रफ्तार

भारत से निर्यात किए जा रहे उत्पादों का विश्लेषण करने पर ज्ञात होता है कि देश से रोजगारोन्मुखी उद्योगों के उत्पाद तेज गति से बढ़ रहे हैं।

कोरोना संकट से उबरते हुए भारतीय अर्थव्यवस्था ने लगाई ऊंची छलांग

वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) की वसूली में तो लगातार वृद्धि देखने में आ रही है एवं यह अब प्रति माह एक लाख करोड़ रुपए से अधिक के स्तर पर पहुंच गई है।