कोरोना

सौ करोड़ टीकाकरण की गौरवशाली उपलब्धि पर भी नकारात्मक राजनीति में जुटा विपक्ष

देश में कोरोना संक्रमण के मद्देनजर चल रहे टीकाकरण अभियान के अन्तर्गत 21 अक्टूबर को कुल सौ करोड़ डोज लगाए जाने का लक्ष्य हासिल किया गया।

आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन : मोदी सरकार बनाने जा रही रोगियों की अनूठी स्वास्थ्य कुंडली

स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के प्रत्येक नागरिक की अनूठी स्वास्थ्य कुंडली (यूनिक हेल्थ आईडी) बनाने की शुरूआत कर दी है।

सुधार की राह पर आगे बढ़ती अर्थव्यवस्था

अर्थव्यवस्था में सुधार आने की वजह से लाखों की संख्या में नये खुदरा निवेशक हाल ही में शेयर बाजार से जुड़े हैं। बीएसई  शेयर सूचकांक 60,000 अंकों के स्तर को पार कर चुका है

पहली तिमाही में जीडीपी में हुई रिकॉर्ड वृद्धि अर्थव्यवस्था की गतिशीलता को ही दर्शाती है

वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में जीडीपी में 20.1 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। तिमाही आधार पर भी पिछले वर्ष की दिसंबर तिमाही से जीडीपी में लगातार वृद्धि होना विकास में तेजी आने का द्योतक है।

कथित ‘केरल मॉडल’ पर लहालोट होने वाले केरल में बढ़ते कोरोना मामलों पर मुंह में दही जमा चुके हैं!

इसके पीछे केरल सरकार द्वारा कोरोना को हल्के में लिया जाना ही कारण है जिसने पूरे देश की चिंता बढ़ा दी है, क्‍योंकि यहां से यदि अन्‍य राज्‍यों में संक्रमण फैला तो स्थितियां कठिन हो जाएंगी।

संसद में विपक्ष का शर्मनाक आचरण उसकी नाकामी और बौखलाहट को ही दर्शाता है

सरकार को घेरने के लिए विपक्ष के पास उचित मुद्दे नहीं हैं, इसलिए नाकामी और बौखलाहट में वो कभी शर्मनाक हंगामे से संसद को बाधित करते हैं तो कभी सड़क पर विरोध करने लगते हैं। 

ये आंकड़े बताते हैं कि कोरोना संकट के बावजूद मजबूत स्थिति में है भारतीय अर्थव्यवस्था

सरकार द्वारा उठाये गये सुधारात्मक कदमों से अर्थव्यवस्था में तेजी दिख रही है जिसके आगामी महीनों में और भी बेहतर होने की उम्मीद है।

कोरोना संकट के बावजूद तेजी से हर घर में नल से जल पहुंचाने में कामयाब हो रही मोदी सरकार

आजादी के बाद 72 वर्षों में जहां प्रतिदिन 1229 ग्रामीण घरों में नल से जल का कनेक्‍शन दिया गया वहीं मोदी सरकार आज हर रोज दो लाख से अधिक ग्रामीण घरों में नल से जल का कनेक्‍शन दे रही है।

कोरोना महामारी पर काबू पाने में कामयाब होती दिख रही मोदी सरकार

12 जुलाई 2021 को कोरोना महामारी से ठीक होने वालों की कुल संख्‍या 3 करोड़ के आंकड़े को पार कर गई। यह लगातार 34वां दिन रहा जब भारत में कोरोना वायरस के एक लाख से कम नए मामले सामने आए।

सरकार के प्रयासों से कोरोना की दूसरी लहर के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था ने फिर पकड़ी रफ़्तार

केंद्र सरकार एवं भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा लिए गए कई निर्णयों के कारण अर्थव्यवस्था पर कोरोना महामारी के प्रभाव को काफी कम करते हुए जून 2021 माह में वृद्धि दर साफ तौर पर पुनः पटरी पर आती दिख रही है।