कामकाज

मोदी राज में दलितों आदिवासियों के आये अच्छे दिन

केंद्र सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दलितों और आदिवासियों को अत्याचार से मुक्ति दिलाकर समरसता लाने के अंबेडकर के सपने को पूरा करने का हरसंभव प्रयास किया जाएगा। नरेंद्र मोदी सरकार ने दलितों और आदिवासियों के खिलाफ अत्याचार रोकने के लिए एससी/एसटी कानून में व्यापक बदलाव किया है। नए प्रावधानों से अब दलितों

गांधी के सपनों को पूरा कर रहे मोदी

शिवानन्द द्विवेदी  गांधी का एक सपना था कि अपना भारत स्वच्छ हो। गांधी इस सपने को एक आन्दोलन के नजरिये से देखते थे। उनका मानना था कि सफाई का कार्य जनांदोलन की तरह चलना चाहिए। लेकिन दुर्भाग्य कहेंगे कि गांधी के सपनों समझने में देश ने सत्तर साल लगा दिए। सत्तर साल की बात कहने

मोदी सरकार में आये गाँव वालों के अच्छे दिन

शिवानन्द द्विवेदी  गत २९ फरवरी-२०१६ को पूरे देश की निगाहें सर्वोच्च पंचायत लोकसभा की तरफ थीं। भाजपा-नीत सरकार के वित्त मंत्री अरुण जेटली आम-बजट पेश कर रहे थे। बजट भाषण समाप्त होने के बाद एक प्रतिक्रिया तो लगभग सभी विश्लेषकों ने दी कि यह ‘गाँव-गिरान’ को समर्पित बजट है, यह गरीब-मजदूर और किसान को ध्यान

केन्द्रीय मंत्री ने चिकित्‍सा महाविद्यालय में उन्‍नयन की घोषणा की

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्री श्री जे.पी.नड्डा ने आज हिमाचल प्रदेश में नाहन जिला अस्‍पताल के एक चिकित्‍सा महाविद्यालय में उन्‍नयन की घोषणा की। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा कि यह 189 करोड़ रुपये की मंजूरी प्राप्‍त लागत से संस्‍थान ने 100 एमएमबीएस सीटों की वृद्धि करेगा। इस उन्‍नयन में अस्‍पताल शिक्षण ब्‍लॉक एवं आवासीय

सरकार की नीति में प्राथमिकता

जिस संघ को कांग्रेस ने अपने खिलाफ उठे जनाक्रोश को भटकाने के लिए फासीवादी कहा था उसी संघ के एक शिविर में जेपी 1959 में जा चुके थे. उन्होंने संघ को कभी अछूत नहीं माना. आपातकाल के बाद जब जेपी जेल से छूटे तो उन्होंने मुंबई में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा था,

भाजपा का सन्गठन विस्तार

जिस संघ को कांग्रेस ने अपने खिलाफ उठे जनाक्रोश को भटकाने के लिए फासीवादी कहा था उसी संघ के एक शिविर में जेपी 1959 में जा चुके थे. उन्होंने संघ को कभी अछूत नहीं माना. आपातकाल के बाद जब जेपी जेल से छूटे तो उन्होंने मुंबई में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा था,

भाजपा का विस्तार

जिस संघ को कांग्रेस ने अपने खिलाफ उठे जनाक्रोश को भटकाने के लिए फासीवादी कहा था उसी संघ के एक शिविर में जेपी 1959 में जा चुके थे. उन्होंने संघ को कभी अछूत नहीं माना. आपातकाल के बाद जब जेपी जेल से छूटे तो उन्होंने मुंबई में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा था,

भाजपा का विस्तार एवं सन्गठन

जिस संघ को कांग्रेस ने अपने खिलाफ उठे जनाक्रोश को भटकाने के लिए फासीवादी कहा था उसी संघ के एक शिविर में जेपी 1959 में जा चुके थे. उन्होंने संघ को कभी अछूत नहीं माना. आपातकाल के बाद जब जेपी जेल से छूटे तो उन्होंने मुंबई में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा था,