डॉ दिलीप अग्निहोत्री

योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश की एक नई और चमकदार तस्वीर प्रस्तुत की है

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने अपने साढ़े चार साल के कार्यकाल में विकास के नए आयाम गढ़े हैं और एक नए उत्तर प्रदेश की तस्वीर देश के सामने प्रस्तुत की है।

योगी सरकार के उपलब्धियों से भरे साढ़े चार साल

योगी सरकार के साढ़े चार वर्षों में राष्ट्रीय पटल पर एक नया, सक्षम और समर्थ उत्तर प्रदेश उभरकर आया है। पांच वर्ष पहले इसे बीमारू प्रदेश माना जाता था।

सच से दूर और राजनीति से प्रेरित है कथित किसान आंदोलन

जनता सब देख रही है और वास्तविक मुद्दों पर आधारित आंदोलन तथा राजनीति प्रेरित आंदोलन का मतलब बखूबी समझती है। इसका हिसाब भी जरूर करेगी।

अयोध्या पहुँचकर राममय हुए राष्ट्रपति

रामचरितमानस की चौपाई ‘सिया राम मय सब जग जानी’ का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि राम संपूर्ण मानवता के हैं। राम सबके हैं और राम सबमें हैं।

खेलो इण्डिया अभियान की सफलता का प्रमाण है टोक्यो ओलम्पिक में भारत का उम्दा प्रदर्शन

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने पहले कार्यकाल में खेलो इंडिया अभियान का शुभारंभ किया था। इसके अंतर्गत अनेक कार्यक्रमों की शुरुआत हुई। खिलाड़ियों को सुविधाएं उपलब्ध कराई गईं।

‘भेदभाव, वैमनस्य और दुर्भावना को खत्म करने के लिए प्रेरित करेगा विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’

भारत का विभाजन और स्वतन्त्रता इतिहास के एक ही अध्याय में है। भीषण त्रासदी और विभाजन की काली रात के बाद स्वतन्त्रता का प्रकाश हुआ था।

यूपी : विकास के मुद्दे पर अडिग भाजपा

यूपी में सपा-बसपा की पिछली दोनों सरकारों ने जहाँ जातिवाद और तुष्टिकरण की राजनीति की वहीं वर्तमान भाजपा सरकार विकास की राजनीति कर रही है।

यूपी : उपलब्धियों के आधार पर आशीर्वाद की आकांक्षा

तथ्यों से स्पष्ट है कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार राज्य के विकास और चाक-चौबंद कानून व्यवस्था के लिए प्रतिबद्धतापूर्वक काम कर रही है।

केंद्र और योगी सरकार के प्रयासों से तेजी से विकसित हो रही अयोध्या

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने अयोध्या के विकास पर विशेष ध्यान दिया है। इसको स्मार्ट व विश्व स्तरीय नगर बनाने का कार्य प्रगति पर है।

यूपी : वर्तमान समय की आवश्यकता है जनसंख्या नियंत्रण कानून

जनसंख्या नियंत्रण का संबन्ध विकास व संसाधनों से जुड़ा है। संसाधनों की भी एक सीमा होती है। जनसंख्या व संसाधनों के बीच एक संतुलन होना चाहिए।